google.com, pub-4651590890763792, DIRECT, f08c47fec0942fa0

EPS 95 Pension Hike News : सरकार के खिलाफ, बीएमएस करेंगी प्रदर्शन

EPS 95 Pension Hike News : ईपीएस 95 पेंशनर्स की न्यूनतम पेंशन में वृद्धि के लिए बीएमएस (भारतीय मजदूर संघ) ने ईपीएफओ कार्यालय पर 20 जनवरी को विरोध प्रदर्शन करने का ऐलान किया है। और साथ ही ईपीएस 95 पेंशनर्स की न्यूनतम पेंशन 1000 रुपये से बढ़ाकर 5000 रुपये करने की मांग की है।

ईपीएस 95 पेंशन में वृद्धि के लिए BMS करेंगी विरोध प्रदर्शन।

राष्ट्रिय स्वयंसेवक संघ (RSS) की मजदुर संघठन भारतीय मजदूर संघ (बीएमएस) ने ईपीएस 95 पेंशन में वृद्धि के लिए 20 जनवरी को इपीएफओ कार्यालय पर विरोध प्रदर्शन करने का ऐलान किया है। भारतीय मजदूर संघ (BMS) की मांग है की ईपीएस 95 पेंशनधारको को न्यूनतम पेंशन 5000 रुपये प्रति महीने मिलने चाहिए, जो की अभी 1000 हजार रुपये न्यूनतम है। और यदि ऐसा नहीं होता है तो वह ईपीएफओ के कार्यालय के सामने प्रदर्शन करेंगी।

बीएमएस ने एक एक प्रेस नोट जारी करते हुए बताया है की वह 20 जनवरी को EPFO के अंतर्गत आने वाले देश के 67 लाख पेंशनधारको की न्यूनतम पेंशन में वृद्धि की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन करेगी और इसके बाद वित्तमंत्रालय को ज्ञापन प्रस्तुत करेंगी।

e shram card in hindi ई श्रम कार्ड योजना क्या है। जानिए पूरी जानकारी

ईपीएस 95 पेंशन में वृद्धि एक बड़ा मुद्दा।

बीएमएस के मुताबित ईपीएस 95 पेंशन एक बड़ा मुद्दा बन चूका है। यह मामला अब 67 लाख पेंशनर्स और उनके परिवार से जुड़ा हुआ है। जिन्हे महज अभी 1000 रुपये न्यूनतम पेंशन दी जा रही है। जो बहुत ही कम है। जिसे बढ़ाकर कम से कम 5000 रुपये की जाने की जरुरत है. साथ बीएमएस ने कहा है की पेंशन में वृद्धि का कोई भी लाभ सभी 67 लाख ईपीएस 95 पेंशन धारको को मिलना चाहिए। क्योकि पिछली बार जब पेंशन में वृद्धि हुई तब 44 लाख पेंशनर्स में से केवल 14 लाख पेंशनर्स को ही लाभ मिल पाया था।

बीएमएस ने कहा की ईपीएस 95 में पेंशन का ऐसा प्रावधान होना चाहिए की कर्मचारियों को रिटायरमेंट की वेतन का 50% पेंशन मिलना चाहिए। आपको बता दे की बीएमएस ने बजट पूर्व की बैठक में भी वित्तमंत्रालय के साथ इस मुद्दे पर बातचीत की थी।

EPS 95 Pension Hike News

आपको अवगत हो की ईपीएस 95 पेंशन में वृद्धि को लेकर पेंशनधारक लगातार संघर्षरत है। 2013 में कोश्यारी कमिटी की रिपोर्ट आने के बाद भी पेंशन में वृद्धि नहीं हो पाई थी। और वर्ष 2016 में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी पेंशनधारको को अभी तक लाभ नहीं मिला है। एक पुनःविचार याचिका के कारण मामला कोर्ट में लंबित है।

वर्ष 2014 में पेंशन में वृद्धि के नाम पर न्यूमतम पेंशन 1000 सुनिश्चित की गई थी। लेकिन इसका लाभ भी 28 लाख पेंशनर्स को नहीं मिल पा रहा है।

यह भी पढ़े :

ईपीएस 95 न्यूनतम पेंशन 5000/- नहीं 7500+डीए हो, BMS करे पुर्नविचार – राउत

“नो कोशियारी नो वोट्स” के साथ, चुनावों का विरोध करेंगे ईपीएस 95 पेंशनर्स !

Add a Comment

Your email address will not be published.