15,000 से अधिक वेतन वालों के लिए ईपीएफओ ला सकता है नई पेंशन योजना

ईपीएफओ (EPFO) 15000 से अधिक वेतन पाने वाले कर्मचारियों और अनिवार्य रूप से ईपीएस 95 पेंशन के तहत नहीं आने वाले कर्मचारियों के लिए नई पेंशन योजना लाने की तैयारी कर रहा है। वर्तमान में 15000 रूपये या उससे कम वेतन वाले कर्मचारी ईपीएफ पेंशन के तहत आते है।

मिडिया सूत्रों की माने तो कर्मचारियों की मांग है की अधिक वेतन पर भी उन्हें पेंशन का लाभ दिया जाये। जिसे ध्यान में रखते हुए ऐसे कर्मचारी जिन्हे 15000 रुपये से अधिक वेतन मिलती है उनके लिए एक नई पेंशन स्कीम लाने की तैयारी की जा रही है।

आने वाली सीबीटी की बैठक में रख सकते है प्रस्ताव।

आने वाली 11-12 मार्च को गुवाहाटी में ईपीएफओ के निर्णय लेने वाली संस्था सीबीटी की बैठक होने जा रही है। उम्मीद है की इस बैठक में आपको इस नई पेंशन योजना का प्रस्ताव देखने को मिल सकता है। सीबीटी की बैठक में नवम्बर वर्ष 2021 में पेंशन पर निर्णय के लिए एक समिति गठित की गई थी।

उम्मीद जताई जा रही है की इस समिति का निर्णय मार्च में होने वाली सीबीटी की बैठक में में आ सकता है। और 15000 रुपये से अधिक वेतन वाले कर्मचारियों के लिए एक नई पेंशन व्यवस्था देखने को मिल सकती है।

आपको बता दे की वर्तमान समय में ईपीएफओ के अंतर्गत आने वाले कर्मचारियों को 15000 रुपये की सीलिंग तक ही EPF और EPS पेंशन का लाभ मिलता है। इसी आधार पर उनका कंस्ट्रीब्यूशन भी होता है। बिच में इस सीलिंग लिमिट को बढ़ाने की खबरे भी मिडिया में थी लेकिन कोई ठोस निर्णय नहीं आया। अब ऐसे कर्मचारियों के लिए एक नई पेंशन व्यवस्था लाने की तैयारी ईपीएफओ कर रहा है। जिससे कर्मचारियों को लाभ मिल सकता है। और उनकी पेंशन में भी वृद्धि हो सकती है।

PF Interest Rate 2021-22 पर भी हो सकता है फैसला।

आने वाली सीबीटी (CBT) की बैठक 11-12 मार्च को गुवहाटी में होने जा रही है। जिसमे पेंशन के साथ साथ पीएफ पर मिलने वाले ब्याज दर (pf interest rate 2021-22) का भी फैसला हो सकता है। आपको बता दे की प्रति वर्ष पीएफ में ब्याज दरों का फैसला सीबीटी की इसी (फरवरी-मार्च) की बैठक में लिया जाता है। वर्तमान में ईपीएफओ की ओर से 8.50% ब्याज दिया जा रहा है जो अच्छे संकेतो के चलते बढ़ने के आसार है या यथावत रह सकते है।

यह भी पढ़े :

2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published.