73 लाख पेंशनर्स को एक साथ मिलेंगी पेंशन ? CBT Meeting में होंगा फैसला।

EPFO CBT Meeting Latest update : आने वाली 29 और 30 जुलाई को EPFO CBT Meeting होने जा रही है। जिसमे पीएफ, पेंशन और e shram कार्ड धारको के लिए बड़े फैसलों की उम्मीद है। इसी बिच मिडिया सूत्रों की माने से सीबीटी की बैठक में ईपीएफओ के 73 लाख पेंशनर्स के लिए बड़ी अपडेट निकल कर आ सकती है।

ईपीएफओ के बोर्ड ऑफ ट्रस्टी (सीबीटी) की 20 नवंबर, 2021 को हुई 229 वीं बैठक में सी-डीएसी की ओर से केंद्रीकृत आईटी आधारित प्रणाली के विकास प्रस्ताव को मंजूरी दी गई थी। केंद्रीय पेंशन वितरण प्रणाली की स्थापना के बाद पेंशन का वितरण 138 क्षेत्रीय कार्यालय के डाटाबेस के आधार पर होगा।

73 लाख पेंशनर्स को एक साथ मिलेंगी पेंशन।

आने वाली 29 और 30 जुलाई को EPFO CBT Meeting में यदि प्रस्ताव पास होता है तो देश के तक़रीबन 73 लाख पेंशनर्स को एक साथ, एक दिन ही पेंशन मिलने की सुविधा शुरू हो सकेंगी। यह सुविधा सुरु होने के बाद केंद्रीय पेंशन वितरण प्रणाली के आधार पर पेंशन का वितरण 138 क्षेत्रीय कार्यालय के डाटाबेस के आधार पर होगा।

न्यूनतम पेंशन में वृद्धि की है, मांग !

ईपीएस 95 पेंशनर्स की ओर से न्यूनतम पेंशन 1000/- को बढ़ाकर 7500/- के साथ मंहगाई भत्ता करने की है। साथ ही मेडिकल की सुविधा भी मिले, इसलिए पेंशनर्स पिछले 6 वर्षो से अपनी मांगो को लेकर दफ्तर-दफ्तर घूम रहे है। आपको अवगत हो की पेंशर्स के लिए संघर्ष करने वाली समिति NAC ने पिछले दिनों 2 बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से भी मुलाकात की है। लेकिन कोई ठोस निर्णय निकलकर नहीं आया है।

पेंशन खाते से निकासी पर मिल सकती है राहत।

मिडिया सूत्रों की माने तो, सीबीटी की बैठक (CBT Meeting) में पेंशन खाते से निकासी को लेकर भी नया नियम लागू करने पर विचार कर रहा है। इसके तहत उन पीएफ खाताधारकों को भी पेंशन खाते में जमा राशि निकालने की अनुमति दी जा सकती है, जिन्होंने छह महीने से कम समय तक योगदान किया है। वर्तमान में केवल वही पीएफ खाताधारक, पेंशन खाते से निकासी कर सकता है, जिसने 6 महीने ज्यादा और 10 साल से कम तक योगदान किया है।

यह भी पढ़े :

Add a Comment

Your email address will not be published.