google.com, pub-4651590890763792, DIRECT, f08c47fec0942fa0

EPS 95 NAC NEWS : सड़क दुर्घटना में बाल-बाल बचे कमांडर अशोक राऊत

NAC चीफ मा. कमांडर अशोक राऊत व सेंट्रल टीम के सभी सदस्य दुर्भाग्यपूर्ण घटना में बाल बाल बचे।

आज, 21 फरवरी 2021 को करमला में आयोजित सोलापुर जिला सम्मेलन के लिए जाते समय ईपीएस 95 राष्ट्रिय संघर्ष समिति के राष्ट्रिय अध्यक्ष समेत सेंट्रल टीम के सदस्य दुर्घटना में बाल-बाल बचे। जीप से जाते समय, चलती गाड़ी में पिछली एक्सल ट्यूब टूटकर, एक्सल शाफ्ट, हब- ड्रम सहित पहिया बाहर निकल गया। जिससे बड़ी दुर्घटना हो सकती थी। लेकिन परम सत्ता की कृपा व आप सभी महानुभावों के शुभाशीष से, गाड़ी भी कंट्रोल हुई, रगड़ के कारण उत्पन्न हुई आग भी बोतलों में रखे पानी द्वारा तुरंत बुझाई गई व NAC चीफ सहित सभी सदस्य गण इस दुर्भाग्यपूर्ण हादसे में सुरक्षित रहे।

केलवद गांव के पास यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई।

आपको अवगत हो कि EPS 95 पेंशनर्स की संगठन शक्ति के विस्तार हेतु दिनांक 21.02.2022 से दिनांक 25.02.2022 तक पश्चिम महाराष्ट्र के 5 जिलों में जिला सम्मेलनों के लिए आज सुबह 5.00 बजे NAC मुख्यालय बुलढाना से केंद्रीय टीम ने प्रस्थान किया व सुबह 5.30 बजे बुलढाना – चिखली रोड पर, केलवद गांव के पास यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई।

इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना के बाद मा. NAC चीफ ने जिला सम्मेलनों के महत्व को समझते हुए दूसरे वाहन की व्यवस्था की व जिला सम्मेलन के लिए प्रस्थान करते समय इस दुर्घटना की जानकारी अभी अभी NAC मुख्यालय को भेजी।

मा. श्रीमती शोभा आरस, राष्ट्रीय अध्यक्ष, महिला फ्रंट व सौ. सरिता नारखेड़े, संगठन सचिव, पश्चिम भारत (महिला फ्रंट) व उनकी महिला टीम सहित श्री बी एस नारखेडे, सह कोषाध्यक्ष व NAC के वरिष्ठ नेता तथा NAC गाड़ी के चालक श्री जगन्नाथ मच्छले जी, NAC चीफ के साथ इस वाहन में मौजूद थे।

यह भी ज्ञातव्य हो कि NAC के आंदोलनों में सहायक नारी शक्ति के जागरण व संगठन विस्तार हेतु यह सभी जिला सम्मेलन पश्चिम भारत के संगठन सचिव श्री सुभाष पोखरकर जी द्वारा आयोजित किए गए है, जिसमें कुछ सभाओं में NAC के राष्ट्रीय मुख्य सलाहकार श्री पी एन पाटिल व पश्चिम भारत के मुख्य समन्वयक श्री सी एम देशपांडे भी उपस्थित रहेंगे।

ईपीएफ पेंशनर्स की मांगो के लिए कर रहे संघर्ष।

कमांडर अशोक राऊत, ईपीएस 95 राष्ट्रिय संघर्ष समिति के राष्ट्रिय अध्यक्ष है जो पिछले 6 वर्षो से ईपीएफ पेंशनर्स की मांगो के लिए संघर्षरत है। 2 बार प्राधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिल चुके है। और एनएसी के बैनर तले पिछले 1155 दिनों से पेंशनर्स की मांगो मंजूर करवाने के लिए क्रमिक अनसन जारी है।

यह भी पढ़े :

Add a Comment

Your email address will not be published.